Bol Do Na Zara Lyrics In English – AZHAR

1517

Bol Do Na Zara Lyrics In English from AZHAR album. Its lyrics for Hindi songs. This song is sung by Armaan Malik, Amaal Mallik gave music to this song, and Rashmi Virag wrote this song. You can find these song lyrics in English and lyrics in Hindi both fonts.

Bol Do Na Zara Lyrics PDF
Please Join Our Telegram Channel
👇👇👇
👉👉https://t.me/Voicelyrics
👉👉@Voicelyrics

Song – Bol Do Na Zara
Singer – Armaan Malik
Music – Amaal Mallik
Lyrics – Rashmi Virag
Music Producer – Bhushan Kumar

Bol Do Na Zara Lyrics In English

ITNI MOHABBAT KARO NA

MAIN DOOB NA JAUN KAHI
VAAPAS KINARE PE AANA
MAIN BHOOL NA JAUN KAHI

DEKHA JABSE CHEHRA TERA
MAIN TOH HAFTON SE SOYA NAHI

BOL DO NA ZARA
DIL MEIN JO HAI CHIPA
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI

MUJHE NEEND AATI NAHI HAI AKELE
KHWABON MEIN AAYA KARO
(voicelyrics.com)
NAHI CHAL SAKUNGA TUMHARE BINA MAIN
MERA TUM SAHAARA BANO

IK TUMHEIN CHAHNE KE ALAAWA
AUR KUCH HUMSE HOGA NAHI
BOL DO NA ZARA
DIL MEIN JO HAI CHIPA
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI

HUMARI KAMI TUMKO MEHSOOS HOGI
BHEEGA DENGI JAB BAARISHE
MAIN BHAR KARKE LAYA HOON
ANKHON MEIN APNI
ADHOORI SI KUCH KHWAHISHE
ROOH SE CHAAHNE WALE AASHIQ
BAATEIN JISMO KI KARTE NAHI

BOL DO NA ZARA
DIL MEIN JO HAI CHIPA
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI

BOL DO NA ZARA
DIL MEIN JO HAI CHIPA
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI
MAIN KISI SE KAHUNGA NAHI

Bol Do Na Zara Lyrics In Hindi

इतनी मोहब्बत करो ना

मैं डूब ना जाऊं कहीं
वापस किनारे पे आना
मैं भूल ना जाऊं कहीं
देखा जबसे चेहरा तेरा
मैं तो हफ़्तों से सोया नहींबोल दो ना ज़रा
दिल में जो है छिपा
मैं किसी से कहूँगा नहीं
बोल दो ना ज़रा
दिल में जो है छिपा
मैं किसी से कहूँगा नहीं
मैं किसी से कहूँगा नहीं

मुझे नींद आती नहीं है अकेले
ख्वाबों में आया करो
नहीं चल सकूँगा तुम्हारे बिना मैं
मेरा तुम सहारा बनो
इक तुम्हें चाहने के अलावा
और कुछ हमसे होगा नहीं

बोल दो ना ज़रा
दिल में जो है छिपा
मैं किसी से कहूँगा नहीं

बोल दो ना ज़रा
दिल में जो है छिपा
मैं किसी से कहूँगा नहीं
मैं किसी से कहूँगा नहीं

हमारी कमी तुमको महसूस होगी
भींगा देंगी जब बारिशें
मैं भर कर के लाया हूँ
आँखों में अपनी
अधूरी सी कुछ ख्वाहिशें
रूह से चाहने वाले आशिक
बातें जिस्मों की करते नहीं

बोल दो ना ज़रा
दिल में जो है छिपा
मैं किसी से कहूँगा नहीं

बोल दो ना ज़रा
दिल में जो है छिपा
मैं किसी से कहूँगा नहीं
मैं किसी से कहूँगा नहीं

This Song Written by:- Rashmi Virag